सावधान ! रात को सोने से पहले मोबाइल का इस्तेमाल ना करें वरना झेलनी पड़ेगी यह सब दिक़्क़तें !!

मोबाइल फ़ोन आज हमारी ज़िन्दगी का बहुत ज़रूरी हिस्सा बन गया है, और यह हमारी ज़िन्दगी पर धीरे-धीरे काबू करता जा रहा है। अगर हम सोचें कि आज हम ऐसी क्या चीज़ है जो हम मोबाइल फ़ोन के बिना नहीं कर सकते तो हमे कुछ नहीं मिलेगा क्यूंकि आजकल हर चीज़ मोबाइल के साथ ही लोग कर रहे हैं। मोबाइल फ़ोन एक बहुत जरुरी चीज़ है पर इसके बहुत सारे नुक्सान भी हैं और हम इन नुक़्सानो को नहीं जानते हुए भी मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल करे जा रहें हैं। हम लोग सारा दिन अपना मोबाइल चलते रहते हैं और

मोबाइल फ़ोन आज हमारी ज़िन्दगी का बहुत ज़रूरी हिस्सा बन गया है, और यह हमारी ज़िन्दगी पर धीरे-धीरे काबू करता जा रहा है। अगर हम सोचें कि आज हम ऐसी क्या चीज़ है जो हम मोबाइल फ़ोन के बिना नहीं कर सकते तो हमे कुछ नहीं मिलेगा क्यूंकि आजकल हर चीज़ मोबाइल के साथ ही लोग कर रहे हैं। मोबाइल फ़ोन एक बहुत जरुरी चीज़ है पर इसके बहुत सारे नुक्सान भी हैं और हम इन नुक़्सानो को नहीं जानते हुए भी मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल करे जा रहें हैं।

हम लोग सारा दिन अपना मोबाइल चलते रहते हैं और जब रात को सोने लगते हैं तो तब भी सारे अपना मोबाइल फ़ोन चलाते हैं। क्या आप जानते हैं कि मोबाइल फ़ोन सबसे ज्यादा नुक्सान हमे रात को ही करता है, आज हम इस लेख में इन्ही नुक़्सानो को आपको बताने वाले हैं और आपको इस बारे में साड़ी जानकारी देने वाले हैं।

रात को सोने से पहले मोबाइल फ़ोन चलने के नुक्सान।

1. नींद देर से आती है।

क्या आप भी रातभर जागे रहते हैं और आपको नींद नहीं आती, क्या आपको पता है कि दुनिया के ज्यादातर लोगों को यह प्रॉब्लम रोज़ झेलनी पड़ती है। यह दिक़्क़त सिर्फ रात को मोबाइल फ़ोन चलाने से ही आती है, जब हम रात को मोबाइल फ़ोन चलाते हैं तो हमारे शरीर में मेलाटोनिन हार्मोन का लेवल कम होता जाता है और कुछ लोगों का तो बहुत कम हो जाता है। इस हार्मोन की कमी की वजह से ही हमे रात को नींद नहीं आती है और कुछ लोगों को देर से आती है।

2. दिमाग पर असर पड़ता है ।

आप यह तो जानते ही होंगे कि मोबाइल की रेज़ से दिमाग पर बहुत असर पड़ता है पर क्या आप यह जानते हैं कि रात को यह असर ज्यादा पड़ता है। हमारे दिमाग पर इसी कारण से तनाव बढ़ता रहता है और इससे हमारी मेमोरी पर भी फर्क पड़ता है। रेसेअर्चेर से भी कहते हैं कि रात को मोबाइल चलाने से ब्रेन टूमओर का खतरा बढ़ जाता है।

3. आँखों पर बहुत बुरा असर पड़ता है ।

आपकी माँ आपको कहती होगी कि मोबाइल चलाने से आपकी आँखे कमज़ोर होजाएंगी। यह बात बिलकुल सही है, एक अमरीकी संस्था के मुताबिक रात को मोबाइल चलाने से आँखों की रौशनी कमज़ोर होने लग जाती है। हमारी आँखों में रेटिना होता है यह सबको पता है और यह हमारी आंख का बहुत ज़रूरी हिस्सा होता है, रात को मोबाइल की वजह से इस्पे भी असर पड़ने लग जाता है।

 

देखें यह विडियो :