ज्यादातर पुरष करते हैं S*X के मामले में एक जैसी गलतियां, जानिए क्या है वह गलतियां !!

चाहे पुरष हो याँ फिर महिला हो समागम दोनों के लिए बहुत ज़रूरी होता है। समागम करते समय अगर कोई गलती हो जाए तो उसका अंजाम बुरा भी हो सकता है इसीलिए आपको इस काम को बिलकुल ध्यान से करना होता है। हम सब जानते हैं कि समागम हमारे शरीर की ज़रूरत होती है और हमे यह करते रहना चाहिए। समागम के बहुत लाभ भी होते हैं जैसे हमारा स्वास्थ अच्छा रहता है और कई बीमारियां हमसे दुर्र रहती हैं। समागम करते समय कई बार गलतियां हो जाती हैं जो हमे नहीं करनी चाहिए और यह गलतियां ज्यादातर पुरषों से

चाहे पुरष हो याँ फिर महिला हो समागम दोनों के लिए बहुत ज़रूरी होता है। समागम करते समय अगर कोई गलती हो जाए तो उसका अंजाम बुरा भी हो सकता है इसीलिए आपको इस काम को बिलकुल ध्यान से करना होता है। हम सब जानते हैं कि समागम हमारे शरीर की ज़रूरत होती है और हमे यह करते रहना चाहिए। समागम के बहुत लाभ भी होते हैं जैसे हमारा स्वास्थ अच्छा रहता है और कई बीमारियां हमसे दुर्र रहती हैं।

समागम करते समय कई बार गलतियां हो जाती हैं जो हमे नहीं करनी चाहिए और यह गलतियां ज्यादातर पुरषों से ही होती है। अगर आप भी अपने समागम जीवन को अच्छा बनाना चाहते हैं और अपना रिश्ता और पक्का करना चाहते हैं तो आपको ध्यान रखना होगा कि आप यह गलतियां समागम करते हुए नहीं करें। तो चलिए जानते हैं कि क्या हैं वो गलतियां।

1. बिस्तर पर जाते ही समागम शुरू !!

 

कुछ आदमियों को समागम करने की इतनी इच्छा होती है कि वह बिस्तर पर जाते ही शुरू हो जाते हैं। यह बिलकुल गलत होता है, आपके साथी की भी कुछ जरूरतें होती हैं और आप समागम करते हुए इतनी जल्दी नहीं दिखा सकते हैं। अगर आप समागम को धीरे धीरे करेंगे जैसे पहले फोरप्ले, फिर रोमांस और फिर समागम तो यह आपके रिश्ते को और मजबूत बनाएगा।

2. आपके साथी की इच्छा ।

 

समागम करते समय जो दूसरी गलती पुरषों से बहुत बार हो जाती है वह यह है कि वह अपने साथी की इच्छा जानने में इंटरेस्ट नहीं देते हैं। अगर आपका साथी समागम करते हुए खुश नहीं होगा और उसकी इच्छाएं पूरी नहीं हो रही होंगी तो आपका समागम करना व्यर्थ हो जाएगा क्यूंकि बिना संतोषजनक समागम करने से आपको ही नुक्सान होगा और आपके रिश्ता आपके साथी से टूटता चला जाएगा।

3. रोज़ समागम करना है ।

 

ज्यादातर पुरष यह ही चाहते हैं कि वह रोज़ समागम करें इसके कुछ फायदे भी हैं पर इसके नुक्सान ज्यादा होते हैं। आपको अपने साथी की मर्ज़ी के साथ समागम करना चाहिए और उससे इस बारे में सलाह भी करनी चाहिए क्यूंकि छोटी सी गलती आपका रिश्ता ख़राब कर सकती है। अगर आपका साथी इस बात से इंकार करता है तो आपको रोज़ समागम नहीं करना चाहिए समागम तब ही अच्छा लगता है जब यह खुद ब खुद हो जाए।

 

देखें यह विडियो :