जानिए महिलाएं S*x से पहले कपड़े उतारते समय क्या-क्या सोचती हैं !!

हर इंसान का दिमाग हर समय कुछ ना कुछ सोचता ही रहता है। हम कभी भी यह नहीं बता सकते कि किसी इंसान के दिमाग में क्या चल रहा है। हम कितनी भी कोशिस कर ले नहीं जान पाएंगे कि कोई भी व्यक्ति क्या सोच रहा है। अगर आप किसी के साथ एक ख़ास रिश्ते में हैं तो आपके लिए उसके मन की बात जानना बहुत ही ज़रूरी होगा क्यूंकि अगर आप उसकी खुसी या वो क्या सोचते हैं आपके बारे में नहीं जान सके तो आप उनके साथ यह रिश्ता कैसे आगे बड़ा पाएंगे। कई बार कठिन हो जाता

हर इंसान का दिमाग हर समय कुछ ना कुछ सोचता ही रहता है। हम कभी भी यह नहीं बता सकते कि किसी इंसान के दिमाग में क्या चल रहा है। हम कितनी भी कोशिस कर ले नहीं जान पाएंगे कि कोई भी व्यक्ति क्या सोच रहा है। अगर आप किसी के साथ एक ख़ास रिश्ते में हैं तो आपके लिए उसके मन की बात जानना बहुत ही ज़रूरी होगा क्यूंकि अगर आप उसकी खुसी या वो क्या सोचते हैं आपके बारे में नहीं जान सके तो आप उनके साथ यह रिश्ता कैसे आगे बड़ा पाएंगे।

कई बार कठिन हो जाता है यह सब जानना क्यूंकि आपका साथी आपको अपने मन की बात नहीं बता पाता। अगर बात समागम की आती है तो यह जानना और भी जरुरी हो जाता है कि क्या आप अपने साथी को खुस कर पाते हैं या नहीं ? हम आपको इस सवाल का जवाब तो नहीं दे सकते पर इतना ज़रूर बता सकते हैं कि लड़किया क्या सोचती हैं समागम के समय कपड़े उतारते हुए।

 

 

हर लड़की एक दूसरे से अलग होती है इसीलिए उनका दिमाग भी अलग चलता है पर कुछ बातें ऐसी ज़रूर होती हैं जो सब लडकियां सोचती हैं। हम आज उन्हें बातों के बारे में बात कर रहे हैं। सारी लडकियां जब भी समागम के समय कपड़े उतारती हैं तो उनके दिमाग में सबसे पहला ख्याल यह आता है कि उनका साथी उनके शरीर के अकार के बारे में क्या सोच रहे हैं।

लडकियां अपनी बॉडी को इसीलिए फिट रखती हैं क्यूंकि वो कपड़े उतारते समय सबसे पहले यह ही सोचती हैं। हम लोग जानते ही हैं कि लड़कों के तुलना लड़कियां S*x के बारे में बात या सोचने से शर्माती हैं पर तभी उनके दिमाग में दूसरी बात यह आती है कि यह सब जल्दी ख़तम हो जाए। वो सिर्फ समागम में लगने समय के बारे में चिंतित होती हैं।

 

 

थोड़े लोगों को समागम के समय फोरप्ले करने में ज्यादा माज़ा आता है। लड़कियों को भी फोरप्ले पसंद होता है इसीलिए वो यह भी सोचती हैं कि इसमें थोड़ा और समय लगना चाहिए था। हम समागम करते समय लाइट को बंद कर देते हैं पर थोड़ी रौशनी फिर भी कहीं ना कहीं से आजाती है। लड़कियों को यह रोशिनी भी बहुत परेशान करती हैं वो इस चीज़ का पूरा आनंद उठाना चाहती हैं पर इस रौशनी की वजह से नहीं उठा पाती।

ओर जानने के लिए देखे यह विडियो :